मैच के दौरान फैंस की पंत पर ओलचना को लेकर विराट कोहली ने मैदान में दिखाई नाराज़गी

India vs West Indies 2nd T20I Virat Kohli Miffed With Crowd For Chanting Dhoni Name After Rishabh Pant Dropped A Catch

भारतीय टीम इस समय वेस्टइंडीज़ के खिलाफ घर पर लिमिटेड ओवरो की सीरीज़ खेलने में व्यस्त हैं, जिसमें तीन मैचो की टी20 सीरीज़ पहले खेली जा रही है। हैदराबाद में खेले गए पहले टी20 मैच में भारतीय टीम ने 200 से अधिक के स्कोर का सफलतापूर्वक पीछा करते हुए 6 विकेट से शानदार जीत दर्ज की थी, इसके बाद 8 दिसंबर को सीरीज़ का दूसरा मैच तिरुवनंतपुरम में खेला गया जिसमें टीम इंडिया को हार का सामना करना पड़ा।

टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाज़ी करने उतरी भारतीय टीम 20 ओवरो में 7 विकेट के नुकसान पर 170 रन ही बना सकी, जिसके जवाब में 2 बार टी20 वर्ल्डकप जीत चुकी वेस्टइंडीज़ की टीम ने 18.3 ओवरो में 3 विकेट के नुकसान पर लक्ष्य का पीछा करते हुए सीरीज़ को 1-1 से बराबरी पर लाकर जीवित रखा।

दूसरे टी20 मैच में भारतीय टीम की हार को लेकर गंभीरता से देखा जाए तो उसमें तेज़ गेंदबाज़ो के साथ स्पिनर्स भी पहले 2 टी20 मैच में कुछ खास प्रदर्शन देखने को नहीं मिला है, इसके साथ टीम की फील्डिंग में भी खामियां देखने को मिली हैं। दूसरे टी20 मैच में भुवनेश्वर कुमार जब पारी का 5 वां ओवर कर रहे थे, तो उस समय टीम को लिंडल सिमंस और एविन लुईस दोनों के विकेट मिल सकते थे, लेकिन वाशिंगटन सुंदर और रिषभ पंत ने कैच को लपका ही नहीं।

लेकिन मामला 5 वें ओवर की चौथी गेंद पर अधिक गंभीर हो गया जब रिषभ पंत ने एविन लुईस के एक आसान से कैच को पकड़ने में चूक कर दी। रिषभ पंत से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में यह पहली गलती देखने को नहीं मिली है, इससे पहले भी वह विकेटकीपिंग के दौरान इस तरह की गलतियां कर चुके हैं, जिससे टीम को खामियाजा भुगतना पड़ा है।

रिषभ पंत के इस तरह से कैच छोड़ने के बाद मैदान में मौजूद फैंस भी उनकी आलोचना करने लगे और पूरे स्टेडियम में धोनी-धोनी का नाम पुकारा जाने लगा। इसे देखने के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली बिल्कुल भी खुश नहीं थे, और उन्होंने बाउंड्री पर फील्डिंग करने के दौरान फैंस को उनकी इस हरकत को लेकर नाराजगी व्यक्त की।

विराट ने पहले भी पंत के साथ धैर्य रखने को लेकर बयान दिया है

पिछले कुछ समय से रिषभ पंत लगातार सभी आलोचकों की नजरो में बने हुए हैं। जिसके पीछे उनका बल्ले से लगातार खराब फार्म और विकेट के पीछे भी अच्छा प्रदर्शन ना कर पाना है। इसको लेकर फैंस का भी मानना है, कि संजू सैमसन को टीम में मौका दिया जाना चाहिए। हालांकी पंत ने बल्लेबाज़ी में 22 गेंदो में नाबाद 33 रनों की पारी जरूर खेली थी।

लेकिन जब भी मैच के दौरान विकेटकीपिंग में कोई गलती करते हैं, तो स्टेडियम में धोनी का नाम पुकारा जाना कोई नहीं बात नहीं है। कोहली ने इस सीरीज़ से पहले हुई प्रेस कांफ्रेंस में पंत को लेकर बयान देते हुए कहा था, कि, हमें रिषभ पंत की प्रतिभा पर विश्वास करना होगा, लेकिन ये हमारे लिए भी जरुरी है, कि हर खिलाड़ी को अकेला कुछ समय के लिए छोड़ देना चाहिए।

हमें उनकी गलतियों को लेकर बार-बार धोनी का नाम नहीं पुकारना चाहिए क्योंकि कोई भी खिलाड़ी जब अपने देश के लिए खेल रहा होता है, तो वह जानबूझकर गलतियां करना नहीं चाहता है। इस कारण हमें सभी को सपोर्ट करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *