टोक्यो ओलंपिक 2020 में क्वालीफाइ करने के लिए भारतीय खिलाड़ियों को इन टूर्नामेंट में करना होगा अच्छा प्रदर्शन

साल 2020 में खेला जाने वाला सबसे बड़ा स्पोर्ट्स इवेंट ओलंपिक जो इस बार 24 जुलाई से लेकर 9 अगस्त 2020 तक टोक्यो में खेला जाएगा उसके लिए जहां कई खिलाड़ी अपने-अपने इवेंट के लिए क्वालीफाइ कर चुके हैं, तो वहीं कई खिलाड़ियों को ओलंपिक में हिस्सा लेने के लिए अपना टिकट पक्का करना बाकी है।

mary-kom

भारत की तरफ से अभी तक 64 एथलीट खिलाड़ी 6 अलग-अलग इवेंट के लिए क्वालीफाइ कर चुके हैं, जिसमें से 15 शूटिंग के लिए 8 एथलेटिक इवेंट के लिए तो वहीं 4 खिलाड़ी रेसलिंग इवेंट में हिस्सा लेने के लिए ओलंपिक में अपना टिकट पक्का कर लिया है। ओलंपिक में हर इवेंट के लिए क्वालीफाइ करने का एक अलग मापदंड हैं, जैसे टेनिस और बैडमिंटन के लिए वर्ल्ड रैकिंग को ध्यान में रखते हुए क्वालीफिकेशन मिलता है, तो वहीं एथलेटिक और स्वीमिंग इवेंट के लिए एक अलग मापदंड ओलंपिक के लिए तय कर दिया जाता है।

यदि हम भारतीय एथलीट खिलाड़ियों को लेकर बात करे तो उनके लिए आने वाले कुछ टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन करना बेहद जरुरी है, क्योंकि इसके जरिए ही वह टोक्यो ओलंपिक के लिए अपना टिकट पक्का कर सकते हैं। जिसके बाद एक नजर डालते हैं, आने वाले उन्ही टूर्नामेंट पर जो ओलंपिक क्वालीफिकेशन को ध्यान में रखते हुए बेहद जरुरी हैं।

बॉक्सिंग

boxing

एशिया और ओसियाना जोन ओलंपिक क्वालीफिकेशन टूर्नामेंट जो बॉक्सिंग के लिए होता है, वह इस बार अमान में 3 से 11 मार्च की बीच में खेला जाएगा जिसमें 13 वेट कैटगरी है और इसमें 8 पुरुषो के लिए जबकि 5 महिलाओं के लिए हैं। इस इवेंट में भारत की तरफ से 52 किलोग्राम भार वर्ग में अमित पंघाल, 57 किलोग्राम भार वर्ग में गौरव सोलंकी, 63  किलोग्राम भार वर्ग में मनीष कौशिक, 69 किलोग्राम भार वर्ग में विकास कृष्णन्न, 75 किलोग्राम भार वर्ग में आशीष कुमार, 81 किलोग्राम भार वर्ग में सचिन कुमार, 91 किलोग्राम भार वर्ग में नमन तंवर और 91 से अधिक किलोग्राम भार वर्ग में सतीश कुमार हिस्सा ले रहे हैं।

वहीं महिलाओं में 51 किलोग्राम भार वर्ग में मैरी कॉम, 57 किलोग्राम भार वर्ग में साक्षी चौधरी, 60 किलोग्राम भार वर्ग में सिमरनजीत कौर, 69 किलोग्राम भार वर्ग में लवलीना ब्रोगोहेन और 75 किलोग्राम भार वर्ग में पूजा रानी हिस्सा ले रही हैं।

यदि कोई भारतीय बॉक्सर इस इवेंट के जरिए अपना ओलंपिक टिकट पक्का करने से चूक जाता है, तो उसे एक और मौका वर्ल्ड ओलंपिक क्वालीफाइंग टूर्नामेंट में मिलेगा जो पेरिस में 13 से 20 मई के बीच में होगा।


रेसलिंग

wrestling

एशियन जोन क्वालीफिकेशन टूर्नामेंट जो रेसलिंग के लिए होना है, वह 27 से 29 मार्च तक किर्गिस्तान में खेला जाना है, लेकिन इस टूर्नामेंट को कोरोना वायरस की वजह से आगे बढा दिया गया है और नयी तारीखों के साथ स्थान का भी ऐलान होना अभी बाकी है। जहां 4 भारतीय फ्रीस्टाइल रेसलर पहले ही ओलंपिक के लिए अपना टिकट पक्का कर चुके हैं।

तो वहीं 60 किलोग्राम भार वर्ग में ज्ञानेंद्र को, 67 किलोग्राम भार वर्ग में आशू, 77 किलोग्राम भार वर्ग में साजन, 87 किलोग्राम भार वर्ग में सुनील कुमार, 97 किलोग्राम भार वर्ग में हरदीप, 130 किलोग्राम भार वर्ग में नवीन को क्वालीफाइ करने के लिए इस इवेंट में बेहतर प्रदर्शन करना होगा।


टेबल टेनिस

Manika Batra

एशियन ओलंपिक क्वालीफिकेशन टूर्नामेंट जो टेबल टेनिस के व्यक्तिगत इवेंट के लिए होना है, वह 6 से 12 अप्रैल के बीच में थाईलैंड के बैंकॉक में खेला जाना है। इसमें पुरुष व्यक्तिगत, महिला व्यक्तिगत और मिक्सड डब्लस कैटेगिरी के इवेंट होने हैं। इस इवेंट में सभी की नजरे शरथ कमल, साथियान गणाशेकरन और मनिका बत्रा पर टिकी रहने वाली हैं।

यदि इस इवेंट में भारतीय टेनिस खिलाड़ी ओलंपिक के व्यक्तिगत इवेंट के लिए क्वालीफाइ नहीं कर सके तो उन्हें एक और मौका वर्ल्ड सिंगल्स ओलंपिक क्वालीफाइंग टूर्नामेंट में मिलेगा जो 28 से 31 मई के बीच में दोहा में खेला जाएगा।


आर्चरी

Tarundeep Rai

जर्मनी के बर्लिन में 22 जून से लेकर 28 जून तक आर्चरी का टूर्नामेंट खेला जाएगा जिसमें फाइनल टीम और व्यक्तिगत खिलाड़ियों का फैसला होगा। भारतीय पुरुष टीम जहां पहले ही साल 2019 में हुए वर्ल्ड आर्चरी चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल जीतकर ओलंपिक के लिए अपना टिकट पक्का कर चुकी है। तो वहीं दीपिका कुमारी भी महिला व्यक्तिगत इवेंट के लिए अपना टिकट पहले ही पक्का कर चुकी हैं।

इस टूर्नामेंट में भारतीय खिलाड़ियों की नजर महिला टीम इवेंट और बाकी के 2 व्यक्तिगत इवेंट में अपनी जगह ओलंपिक में पक्का करने को लेकर होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *